वैश्विक व्यापार प्रबंधन पर राष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस आर्थिक मंदी को रोकने में युवाओं की भागीदारी आवश्यक तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री

 

_x000D_ _x000D_

जयपुर। तकनीकी एवं शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने कहा है कि आज के दौर में बिजनेस व स्टार्टअप्स की बदौलत अर्थव्यवस्था का विकास हो रहा है। उन्होंने कहा कि पूर्व में जब पूरा विश्व मंदी के दौर से गुजर रहा था तब भारत ऎसा देश था जो वैश्विक मंदी से प्रभावित नहीं हुआ था जिसका कारण था 70.80 के दशक में लागू की गई आर्थिक नीतियां व मण्डल। डॉ. गर्ग शुक्रवार को यहा आई आई एस डीम्ड टू बी विश्वविद्यालय जयपुर के कॉमर्स विभाग बिजनेस स्टडीज की ओर से  आयोजित दो दिवसीय नेशनल कॉन्फ्रेंस में मुख्य अतिथि के पद से सम्बोधित कर रहे थे। डॉ. गर्ग ने इस अवसर पर उपस्थित प्रतिभागियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि देश की 30 से 40 प्रतिशत जनसंख्या युवाओं की है और अब समय आ गया है जब युवाओं को आगे आते हुए बिजनेस मण्डल तैयार करने होंगे एवं उन तरीकों पर भी विचार करना होगा । वैश्विक व्यापार प्रबंधन में समकालीन रूझान एवं चुनौतियां कन्टम्प्रेरी ट्रेंड्स एंड चैलेंजेस इन ग्लोबल बिजनेस मैनेजमेंट विषय पर आयोजित इस कॉन्फ्रेंस की शुरूआत आईआईएस विश्वविद्यालय के डॉ. अशोक गुप्ता कुलपति के स्वागत भाषण से हुई। प्रो एम के शर्मा डीनए कॉमर्स व मैनेजमेंट विभाग ने मुख्य अतिथि का स्वागत करते हुए कॉन्फ्रेंस के लक्ष्य व उद्देश्य से परिचित करवाते हुए कहा कि वैश्विक परिदृश्य में आ रहे बदलावों का असर विभिन्न देशों के व्यापारिक परिदृश्य पर साफ दिखाई दे रहा है। यही नहीं यह बदलाव सांस्कृतिक सामाजिक राजनीतिक आदि क्षेत्रों में भी अनुभव किया जा रहा है। साथ ही साथ गुड्स एंड सर्विस टैक्स जीएसटी के लागू होने से बिजनेसमेन को कई सारी चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। कॉन्फ्रेंस संयोजक डॉ. अदिति जैन ने अतिथि गण सहित सभी प्रतिभागियों का कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लेने के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया।


सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें