पिंक स्क्वाड महिला संगठन द्वारा हाथों में तलवार ले जाकर जिलाधीश को दिया गया ज्ञापन

पूरे देश समेत राजस्थान में भी जिस तरह से आये दिन महिलाओं के साथ  बलात्कार और महिलाओं की हत्याएं हो रही हैं उससे साफ़ पता चल रहा है की , देश और प्रदेश दोनों ही जगह महिलाओं के खिलाफ अत्याचार का नंगा नाच हो रहा है।

विगत एक सप्ताह में राजस्थान में बलात्कार और महिला उत्पीड़न की ग्यारह से अधिक वारदात हो चुकी है।

•  अभी चंद  दिनों पहले  राजस्थान की राजधानी जयपुर के राजापार्क  में दिनदहाड़े एक युवती की हत्या कर दी गई।

•  राजस्थान बलात्कार के मामलों में अव्वल रहने वाले राज्यों में से एक है।

•  सवाई माधोपुर में घटी घटना के उजागर होने से साफ़ हुआ की भाजपा व कांग्रेस की राजनीतिक पदाधिकारी तक महिलाओं के योन शोषण में शामिल हैं ।

कहीं कानून का खौफ नहीं है , कानून और प्रशासन पूरी तरह विफल हो चुका है।

महिलाएं पूरी तरह असुरक्षित हैं इसलिए पिंक स्क्वाड महिला संगठन राजस्थान सरकार के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को जिलाधीश के माध्यम से ज़िलाधीश को ज्ञापन देने गए किंतु उनके नहीं होने की वजह से police के उच्चाधिकारियों द्वारा ज्ञापन लिया गया।

ज्ञापन माध्यम से निम्नलिखित माँग की गई।

राजस्थान में सभी महिलाओं को धारदार हथियार  रखने की छूट देने की कृपा करें | 

•  जितनी जल्दी हो सके उतनी जल्दी राजस्थान की सभी महिलाओं को बन्दूक और रिवाल्वर उपलब्ध करवाने की कृपा करें जिससे वो अपनी सुरक्षा स्वयं कर सकें। जो रिवाल्वर और बंदूकें सरकार ने पुलिस प्रशासन को दे रखी है उनसे तो महिलाओं को कोई सुरक्षा मिल नहीं पा रही न ही बलात्कारी और अपराधियों में कोई भय व्याप्त हो रहा है | 

संगठन पदाधिकारी द्वारा कहा गया की अगर बलात्कार व महिला उत्पीड़न पर रोक नहीं लगती है तो पिंक स्क्वॉड द्वारा मुख्यमंत्री कार्यालय  प्रदर्शन किया जाएगा ।


सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें