राजस्थान के माननीय राज्यपाल श्री कलराज मिश्र ने आईआईएचएमआर विश्वविद्यालय के प्रेसीडेंट डॉ. पी आर सोडानी को एजुकेशन एक्सीलैंस अवार्ड-2021 से सम्मानित किया



जयपुर, 14 अक्टूबर, 2021- आईआईएचएमआर विश्वविद्यालय, जयपुर के प्रेसीडेंट ड. पी. आर. सोडानी को राजस्थान के माननीय राज्यपाल श्री कलराज मिश्रा ने दैनिक भास्कर एजुकेशन एक्सीलैंस अवार्ड-2021 से सम्मानित किया है।


ड. पी. आर. सोडानी 15 से अधिक वर्षों से हेल्थ इकोनॉमी के प्रोफेसर हैं और उन्होंने अनेक छात्रों और शोध विद्वानों के लिए मेंटॉर की भूमिका निभाई है और देशभर में संकाय सदस्यों को प्रशिक्षित किया है।  

उन्होंने आईआईएचएमआर विश्वविद्यालय के विकास के लिए एक संगठनात्मक संस्ति तैयार करने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। साथ ही, उन्होंनेे अपने असाधारण अकादमिक नेतृत्व, दूरदर्शिता, नीति नियोजन और रणनीतिक कार्यान्वयन के माध्यम से विश्वविद्यालय को शैक्षणिक मार्ग पर आगे ले जाने की दिशा में भी निरंतर प्रयास किए हैं। 

उन्होंने राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय संगठनों और शिक्षाविदों के साथ अनुसंधान, प्रशिक्षण, धन जुटाने और नेटवर्किंग संबंधी दायित्व भी बखूबी निभाए हैं। डॉ सोडानी हेल्थ सिस्टम और पॉलिसी, हेल्थ इकोनॉमिक्स और हेल्थ फाइनेंसिंग की दिशा में भी बड़े पैमाने पर काम कर रहे हैं।


राजस्थान के माननीय राज्यपाल श्री कलराज मिश्र ने इस अवसर पर कहा, ‘‘शिक्षण से जुड़े सम्मान का अर्थ उस परंपरा के प्रति सम्मान है जिससे हमारे देश की आने वाली पीढ़ियां संस्कारित होती हैं। ज्ञान ही एकमात्र निवेश है जो सबसे अधिक रिटर्न देता है और यही वह एकमात्र प्रयास है, जिसकी सहायता से देश का भविष्य भी तय किया जा सकता है।’’


एजुकेशन एक्सीलैंस अवार्ड को स्वीकार करते हुए ड. पी आर सोडानी ने कहा, ‘‘मैं इस पुरस्कार के लिए आभारी हूं और यह वास्तव में एक ऐसे अग्रणी संस्थान का हिस्सा बनने के लिए गर्व की बात है जो स्वास्थ्य और विकास क्षेत्र के लिए लगातार सबसे आगे बना हुआ है। 

आईआईएचएमआर विश्वविद्यालय के संकाय सदस्य शिक्षण और प्रशिक्षण के अलावा साक्ष्य आधारित नीति निर्माण और कार्यक्रम प्रबंधन के लिए इनपुट प्रदान करने के लिए अनुसंधान में जुटे हुए हैं। 

विश्वविद्यालय को एनएएसी एक्रिडिटेशन हासिल है और एनआईआरएफ की ओर से प्रबंधन श्रेणी के तहत 65 वीं रैंकिंग दी गई है।


माननीय राज्यपाल ने इस अवसर पर राजस्थान के विभिन्न शहरों के 23 अन्य शिक्षण संस्थानों को भी पुरस्कार प्रदान किए, जिनमें विश्वविद्यालय, कलेज, स्कूल और कोचिंग संस्थान शामिल हैं।






सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें