छत्तीसगढ़ में किसान सम्मेलन छत्तीसगढ़ व राजस्थान में किसान कल्याण के लिए प्रतिबद्धता के साथ हो रहा काम -मुख्यमंत्री

 

_x000D_ _x000D_

जयपुर। मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत ने कहा कि राजस्थान और छत्तीसगढ़ की राज्य सरकारें किसानों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किसानों के हित में लिए गए फैसलों की सराहना करते हुए कहा कि राजस्थान में भी हमारी सरकार गांव, गरीब, पिछड़े, महिलाओं सहित तमाम वर्गों की बेहतरी के लिए काम कर रही है। मुख्यमंत्री शुक्रवार को छत्तीसगढ़ के गोबरा-नवापाड़ा के राजकीय हरिहर हाई स्कूल मैदान में आयोजित किसान सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।  गहलोत तथा छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने यहां लोकार्पण, भूमि पूजन और आबादी पट्टा वितरण भी किए। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजस्थान में हम संवेदनशील, पारदर्शी और जवाबदेह शासन ने की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में पारदर्शिता बहुत जरूरी है। मुझे यह कहते हुए खुशी है कि राजस्थान में पहले की अपेक्षा प्रशासन में पारदर्शिता बढ़ी है। उन्होंने कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था में सरकारें बदलती रहती हैं लेकिन जनकल्याण की महत्वपूर्ण योजनाएं राजनीतिक दुर्भावना के कारण बंद नहीं होनी चाहिए। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने भी समारोह को संबोधित किया। उन्होंने छत्तीसगढ़ में किसान कल्याण के लिए किए जा रहे कार्यों की जानकारी देते हुए कहा कि उनकी सरकार किसानों के हित में समर्पित भाव से काम कर रही है। इस अवसर पर राजस्थान के कृषि मंत्री  लालचन्द कटारिया, गोपालन मंत्री  प्रमोद जैन भाया, छत्तीसगढ़ सरकार के कृषि एवं जल संसाधन मंत्री  रविन्द्र चौबे, नगरीय प्रशासन एवं श्रम मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया, सांसद  छाया वर्मा, विधायक धनेन्द्र साहू,  विकास उपाध्याय,  अनिता शर्मा, राजस्थान के मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव  कुलदीप रांका सहित बड़ी संख्या में किसान मौजूद थे।

_x000D_ _x000D_

 

_x000D_ _x000D_

जयपुर। मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत ने कहा कि राजस्थान और छत्तीसगढ़ की राज्य सरकारें किसानों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किसानों के हित में लिए गए फैसलों की सराहना करते हुए कहा कि राजस्थान में भी हमारी सरकार गांव, गरीब, पिछड़े, महिलाओं सहित तमाम वर्गों की बेहतरी के लिए काम कर रही है। मुख्यमंत्री शुक्रवार को छत्तीसगढ़ के गोबरा-नवापाड़ा के राजकीय हरिहर हाई स्कूल मैदान में आयोजित किसान सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।  गहलोत तथा छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने यहां लोकार्पण, भूमि पूजन और आबादी पट्टा वितरण भी किए। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजस्थान में हम संवेदनशील, पारदर्शी और जवाबदेह शासन ने की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में पारदर्शिता बहुत जरूरी है। मुझे यह कहते हुए खुशी है कि राजस्थान में पहले की अपेक्षा प्रशासन में पारदर्शिता बढ़ी है। उन्होंने कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था में सरकारें बदलती रहती हैं लेकिन जनकल्याण की महत्वपूर्ण योजनाएं राजनीतिक दुर्भावना के कारण बंद नहीं होनी चाहिए। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने भी समारोह को संबोधित किया। उन्होंने छत्तीसगढ़ में किसान कल्याण के लिए किए जा रहे कार्यों की जानकारी देते हुए कहा कि उनकी सरकार किसानों के हित में समर्पित भाव से काम कर रही है। इस अवसर पर राजस्थान के कृषि मंत्री  लालचन्द कटारिया, गोपालन मंत्री  प्रमोद जैन भाया, छत्तीसगढ़ सरकार के कृषि एवं जल संसाधन मंत्री  रविन्द्र चौबे, नगरीय प्रशासन एवं श्रम मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया, सांसद  छाया वर्मा, विधायक धनेन्द्र साहू,  विकास उपाध्याय,  अनिता शर्मा, राजस्थान के मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव  कुलदीप रांका सहित बड़ी संख्या में किसान मौजूद थे।


सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें