फाइव ईयर लॉ कॉलेज में पार्लियामेंट्री इन्टरर्शिप कार्यक्रम आयोजित  विदेशी संसदीय अधिकारियों एवं लोक सभा के अधिकारियों ने लिया भाग

 

_x000D_ _x000D_

    जयपुर।  राजस्थान विश्वविद्यालय के फाइव ईयर लॉ कॉलेज में शुक्रवार को 35 वें पार्लियामेंट्री इटरर्शिप कार्यक्रम के अंर्तगत विदेशी प्रतिनिधियों के साथ विधि के सम्बन्ध में एक परिचर्चा का आयोजन किया गया। परिचर्चा में  18 देशों के 47 संसदीय अधिकारियों एवं लोक सभा के अधिकारियों ने भाग लिया। लोक सभा के ब्यूरो ऑॅफ पार्लियामेंट्री स्टडीज एण्ड ट्रेनिंग द्वारा आयोजित इस परिचर्चा में  जिज्ञाशा मीणा, ने भारतीय संविधान एवं राजनीतिक विकास पर अपने विचार रखे।  दीक्षा शर्मा  ने केन्द्र एवं राज्य के बीच शक्तियों के विभाजन पर तथा डॉ.अभिषेक कुमार तिवारी ने संसदीय सरकार व्यवस्था के गुणावगुण विषय पर अपने विचार व्यक्त किये। इसके बाद डेलिगेटस द्वारा भारतीय संसदीय प्रणाली पर प्रश्न पूछे एवं फाइव ईयर लॉ कॉलेज के विद्यार्थियों के साथ चर्चा की. परिचर्चा में फाइव ईयर लॉ कॉलेज  की निदेशक डॉंं. सन्जुला थानवी, बी.पी.एस.टी.की अतिरिक्त निदेशक  सीमा कौल एवं राजस्थान विधान सभा की अधिशासी अधिकारी डॉ.सुनीता चौधरी उपस्थित रहे। पुस्तकालय के निदेशक प्रो. एस. एल. शर्मा ने डेलिगेट्स का स्वागत किया तथा डिप्टी लाइब्रेरियन डॉ.नन्दिनी खट्टर ने लाइब्रेरी के बारे मे डेलिगेट्स को विस्तार से जानकारी दी। परिचर्चा के पश्चात डेलिगेट्स ने राजस्थान विश्वविद्यालय के पुस्तकालय का भ्रमण भी किया ।


सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें