बाड़मेर जालौर की सीमा पर टिड्डी का बड़ा पड़ाव, सदमे में किसान

धोरीमन्ना। बाड़मेर जालौर जिले की सरहद पर टिड्डी के पड़ाव से किसान बेसुध हो चुके हैं बुधवार को जालौर जिले की चितलवाना तहसील के लालजी की डूंगरी, के आर बंधा कुंआ, दुठवा ग्राम पंचायत के बर्शल की बेरी, चिमड़ावास, कुंभीया भीलों की ढाणी, सिसावा के कागोडा, शायर का कोशिठा, व जालबेरी में बुधवार को टीडी का कहर जारी रहा जहां किसानों के खेतों में खड़ी फसलों को मिनटों में चट कर दिया  वन एवं पर्यावरण मंत्री सुखराम बिश्नोई ने मंगलवार देर रात को पड़ाव स्थल पहुंचकर अधिकारियों व किसानों के सहयोग से करीब 80 ट्रैक्टरों के माध्यम से सप्रे कर टिड्डीओ को नष्ट करने का अभियान शुरू किया लेकिन प्रयास नाकाफी रहे जिसके चलते हजारों बीघा में खड़ी फसल को भारी नुकसान पहुंचाया  दोपहर बाद टिड्डी का रुख बाड़मेर जिले की सिमा की तरफ रहा शाम को टिड्डी का पड़ाव जिले की सरहद पर जालबेरी, शायर का कोशिठा, व कागोडा खरड़ में है।  अगर आज टिड्डी दल जिले में प्रवेश कर देगा तो किसानों को बड़ा नुकसान पहुचाएंगा।


सांगरी टाइम्स हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें